Wednesday, 18 July 2018

CTET पास करने की पूरी जानकारी हिंदी में

दोस्तो आज हम CTET के बारे में बात करेंगे। ये एक ऐसा नाम है जिसे सभी ने सुना है, लेकिन इसके बारे में बहुत ही कम लोग जानते हैं। आज इस पोस्ट में आप इसकी जानकारी datail में जानेंगें। ctet का पूरा नाम central teacher eligibility test (केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा) है। ये केंद्र सरकार के द्वारा आयोजित की जाती है। इस टेस्ट को पास करने के बाद स्टूडेंट टीचर की नौकरी के लिए अप्लाई कर सकता है और वह teacher बन सकता है। यह test सरकार साल में दो बार कराती है। इसके लिये ऑनलाइन फॉर्म भरे जाते हैं। 


Ctet और tet में अंतर 

सीटेट की तरह ही टेट की परीक्षा आयोजित होती है। इन दोनों में सिर्फ ये फर्क होता है कि ये केंद्र सरकार के द्वारा आयोजित होती है और tet राज्य सरकार के द्वारा आयोजित होती है। सीटेट पास करने के बाद आप किसी भी राज्य में टीचर की नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते हैं, लेकिन टेट पास करके आप केवल उसी राज्य में अप्लाई कर सकते हैं जिस राज्य का आपने tet पास किया है। इस हम समझने के लिए कह सकते हैं की टेट राज्य स्तर का होता है और सीटेट केंद्र अथवा भरतीय स्तर का होता है।

Ctet syllabus


यहां हम आपको बता दें कि सीटेट और टेट को दो अलग-अलग परीक्षाओ में बांटा गया है।

1 - पहली परीक्षा उन छात्रों के लिए है जो कक्षा 1 से 5 तक के प्राइमरी स्कूल में टीचर बनना चाहते हैं। इसमें केवल वो छात्र अप्लाई करते हैं, जो btc किये हुए हो।

2 - दूसरी परीक्षा उन छात्रों के लिए है जो कक्षा 6 से लेकर 8 तक के जूनियर टीचर बनना चाहते हैं। इसके लिए बीएड किये हुए छात्र योग्य होते हैं।

इसे भी पढ़ें :

•  Fitness Trainer बनकर पैसा कमाये 

•  ITI करके करियर बनाये  

Paper 01 :- Class I to V

Child Development  & Padagogy 30 Marks
Language 1 (compulsory)           30 Marks
Language 2 (compulsory        30 Marks
Mathematics                      30 Marks
Environmental Studies            30Marks
Total                        150 Marks
Duration of Exam 2.5 hours

Paper 02 :- Class VI to VIII

Child Development  & Padagogy 30 Marks
Language 1 (compulsory)           30 Marks
Language 2 (compulsory)           30 Marks
Mathematics & Science        60 Marks
Social Studies/ Social Science 60 Marks
Total                   210 Marks
Duration of Exam 2.5 hours

इसमें पास होने के लिए 90 अंक लाना अति आवश्यक है। इससे कम अंक आने पर छात्र फेल माना जाता है। यह परीक्षा एक बार पास करने के बाद इसका एक सर्टिफिकेट दिया जाता है। इसका यह सर्टिफिकेट 5 साल तक मान्य रहता है। यदि इन 5 सालों में आप teacher नही बन पाते हैं तो 5 साल के बाद आपको यह टेस्ट दोबारा देना पड़ेगा। तभी आप टीचर जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें :

•  Makeup Artist कैसे बनें

•  जल्दी करोड़पति कैसे बने 


अब तो आप सीटेट के बारे में पूरी तरह से जान गए होंगे। हम आपको एक बार फिर बता रहे कि ये एग्जाम सिर्फ btc और बीएड वालों के लिए है। अन्य छात्र इसके उम्मीदवार नहीं है। एक जरुरी बात ये है कि इस एग्जाम में negative marking नहीं होती है। इसमें आपको बस जल्दी - जल्दी question के answer देने होते हैं। आप टेस्ट के अनुसार तैयारी करें और अच्छे नंबरों से पास हो। ये ज्यादा कठिन पेपर नही होता है। जो लोग बीटीसी या बीएड कर चुके हैं या कर रहे हैं वो स्टूडेंट ctet का एग्जाम जरूर दें। ताकि वो जल्दी से सरकारी अध्यापक बन सकें।

आपको हमारी ये पोस्ट कैसी लगी। हमें उम्मीद है कि आपको ये पोस्ट जरूर पसंद आयी होगी। यदि करियर से सम्बंधित कोई समस्या या problem हो तो आप हमें comment के द्वारा पूछ सकते हैं। हम आपकी problem को दूर करने की पूरी कोशिश करेंगे।

 Releted Post : 

 नौकरी में प्रमोशन कैसे पाये 

 मौसम विज्ञान में करियर कैसे बनाये

 Photography से पैसे कमाने का नया तरीका
  
 Polytechnic कोर्स की full detail हिन्दी में 

 Chemical Engineer कैसे बना जाये

  Phd के बारे में जानकारी  

 जीवन मे सफलता ( success Life )  पाने के तरीके
   
  Science Stream से करियर कैसे बनायें

  Biology Stream में शानदार करियर बनाये 

 Career Option in Commerce Stream के       बारे में जानें

  Art Stream Courses से बनाये लाजवाब करियर 

 Agriculture Course में हैं हजारों करियर ऑप्शन   जरूर पढ़ें 

No comments:

Post a Comment